Thursday, May 2, 2019

वह वक्त याद है !

बस टाईमपास करने
यूही मै निकल रहा था..
मुझे रास्ते में वक्त मिला
वक्तने पूछा, जा रहे हो कहॉं?

मैने कहा,
घूम रहा हूं युही, जिने आया हूं,
किधर जा रहा हूं पता नही..
फिर वक्त ने मुझे
एक रनर कि कहानी सुनाई
जो एक सेकंद के कुछ हिस्से के वक्त से
हारा था..

हर पल का अर्थ बताया,
जो जिंदगी बदल सकता है..
हर लम्हे का महत्व बताया,
जो जिंदगी मे याद रहता है..
तो मैने भी वक्त से मिलने का
वो लम्हा याद रखा...

वक्त को महत्व देने का वो लम्हा
आज भी याद है...
हर पल के लिये
वक्तपर वक्त को महत्व देने का
वह लम्हा आज भी याद है..
आज भी याद है..

- गणेश.